Responsive Ads Here
देश दुनिया की खबरों की लिये जुडे रहे kdbnewshindi.com के साथ आज ही सब्सक्राइब करे!

Saturday, June 2, 2018

MOVIES REVIEW : VEERE DI WEDDING चार लडकियों की बोल्ड,ड्रामा एंड ENTERTAINING फिल्म "वीरे दी वेडिंग"

MOVIES REVIEW : VEERE DI WEDDING चार लडकियों की बोल्ड,ड्रामा एंड ENTERTAINING फिल्म "वीरे दी वेडिंग"

वीरे दी वेडिंग (VEERE DI WEDDING) ऐसी फिल्म है जिसने बॉलीवुड में महिलायों के एक नये किरदार की शुरुआत कर दिया है ।अब जिन्दगी जीने का अपना अंदाज सिर्फ लडको का नहीं रहा ।



सूरत:'वीरे दी वेडिंग (Veere Di Wedding)' ऐसी फिल्म है जिसने बॉलीवुड में विमेन ओरियंटेड पर एक नए तरह के सिनेमा को आरंभ कर दिया है. बालीवुड में अभी तक यारों-दोस्तों का तरीका ही हिट होता था, जिसकी मिसाल 'जिंदगी मिलेगी न दोबारा' और 'दिल चाहता है' जैसी फिल्में थीं. लेकिन अब सखिया  भी किसी से कम नहीं. 'वीरे दी वेडिंग' क्यों लड़के ही सारे मौज मस्ती करे के कॉन्सेप्ट पर आधारित है. इस फिल्म को देखते हुए 'सेक्स एंड द सिटी' की चार सहेलियां भी आपके दिमाग में घूम सकती हैं. फिल्म अधुनिक समय और आधुनिक लडकियों को ध्यान में रखकर बनायीं गई है. डायरेक्टर शशांक घोष ने कहानी को बड़े मजेदार ढंग से तैयार किया है,शुरुआत में फिल्म की कहानी थोड़ी धीमी गति से चलती है बाद में तो फिल्म दिलचस्प है.


फिल्म की कहानी

करीना, सोनम, स्वरा और शिखा चार पक्के फ्रेंड्स हैं और मौज-मस्ती से लेकर जीवन के कई अहम फैसले एक साथ लेती हैं. फिल्म की कहानी करीना की शादी के इर्द-गिर्द धूमती है. करीना शादी करना चाहती हैं लेकिन कमिटमेंट को लेकर उन्हें दिक्कत है और डरती हैं. शादी के जरिये ग्रेट इंडियन फैमिली की उम्मीद को दिखाया गया है, और यह काफी मजेदार है. सोनम करियर ओरियंटेड है, स्वरा बिंदास और जिंदगी को अपनी शर्तों पर जीना चाहती है जबकि शिखा की कहानी कुछ अलग ही है. इस तरह किरदार बहुत ही शानदार ढंग से बनाया  गया है. पहला मध्यांतर मजेदार है, दूसरे मध्यांतर में करीना का अलग ही रूप देखने को मिलता है, और वह पूरी फिल्म पर छा जाती हैं. लेकिन सेकंड हाफ को तोड़ा मजेदार किया जा सकता था, और फिल्म की टाइम कम करके मजे को और दोगुना करना संभव था. 

किरदार की भूमिका में -

करीना कपूर की बॉलीवुड में दूसरी पारी सफल रही है. पहले बिराम और दुसरे बिराम दोनों में वे अलग ही अंदाज में नजर आती हैं, और दिखा देती हैं कि किरदार में वे कितनी माहिर हैं. सोनम कपूर ने बहुत ही खुलकर किरदार कीया है और ये रोल उन्हें अलग ही अंदाज में दर्शाता है. लेकिन कहीं-कहीं उनका किरदार थोड़ी-सी चुभती है. शिखा तल्सानिया ने ठीक-ठाक काम किया है जबकि स्वरा भास्कर ने एक बार फिर यादगार भूमिका निभायी है. उनका बोल्ड अंदाज और तेवर दर्शकों को जरूर पसंद आएंगे. बाकी फिल्म के सभी कैरेक्टर ठीक हैं.

'वीरे दी वेडिंग' के जाने 'तरीफां' और 'भंगड़ा ता सजदा' तारीफ के काबिल  हैं.  ये फिल्म लव, सेक्स, रिलेशनशिप और समाज के नए ताने-बाने को लेकर ढाली गई है. शशांक घोष ने बहुत ही समझदारी के साथ सभी किरदारों  को पर्दे पर जगह  दिया है. उन्होंने 'वीरे दी वेडिंग' में आधुनिक तेवर से लेकर एंगेजिंग कहानी तक सब कुछ समेटा  है. कुछ ऐसे सीन हिंदी सिनेमा में पहली बार ही देखने को मिलेंगे. एकता कपूर हमेशा कुछ नया और बोल्ड देने के लिए पहचानी जाती हैं, और ऐसा करने में वे सफलता भी हासिल की हैं. फिल्म का बजट लगभग 45 करोड़ रु. बताया जा रहा है. जिसमें प्रचार-प्रसार का  बजट भी मौजूद है. बेशक आधी जनसँख्या इस फिल्म को पसंद करेगी और युवा भी इससे कनेक्ट रहेगा. अब दिलचस्प होगा कि 'वीरे दी वेडिंग' को लेकर बॉक्स ऑफिस से क्या तोहफा आता है. 

ट्रेलर देखे :




Tag: veere di wedding, kareena kapoor khan, sonam kapoor, swara bhaskar, shikha talsania, sumeet vyas, comedy film, 

ताजा जानकारी के लिए kdbnewshindi.com को सब्सक्राइब करे!

No comments:

Post a Comment

दोस्तों पोस्ट कैसी लगी उसके बारे में अपनी राय कमेंट बॉक्स में जरूर लिखे और दोस्तों के साथ शेयर जरूर करे !